Funny Love Stories in Hindi मंगरुआ के प्रेम कहानी 2
Funny Love Stories In Hindi

Funny Love Stories in Hindi मंगरुआ के प्रेम कहानी 2

Funny Love Stories In Hindi :- 

मंगरुआ भगवान में आस लगाकर अपना विवाह संपन्न कराने के लिए अपने गांव के बहरे स्थित भोले बाबा को कपूर जलाने और अपने गाय के 2 लीटर दूध से नहवाने की सौदा किया। साथ ही गांव की काली माई से एक बकरी को दान में देने का सौदा तय किया। शायद देवी देवताओं ने इस सौदे को मंजूर किया और बात को आगे बढ़ाया। मंगरुआ के संघर्ष भरी प्रेम कहानी Part 1

आस-पड़ोस के विद्वान व ज्ञानी महापुरुषों द्वारा समझाये जाने पर रामदास बनिया और मुन्नी लाल के बीच की समस्या का समाधान निकाल लिया गया। और केवल 5 बकरियों को दहेज में लाने का सौदा तय हुआ। अगले महीने मंगरुआ और गुंजा की शादी कर दी गई। मंगरुआ खुशी खुशी गुंजा को अपने घर लाया। सब कुछ अच्छा चल रहा था। Funny Love Stories In Hindi

Funny Love Stories In Hindi

Fun Story In Hindi

एक दिन अचानक गांव में भयंकर बीमारी की हवा चली और बेचारा मंगरुआ तो बच गया लेकिन मंगरुआ की गाय भैस और बकरियां मंगरुआ को छोड़कर परलोक सिधार गए। अब मंगरुआ का रोजगार छिन गया और वह पूरी तरह बेरोजगार हो गया। ऊपर से लाखों रुपए का नुकसान मंगरुआ के पिता मुन्नीलाल को सहन नहीं हो सका और मंगरुआ को कमाने के लिए बाहर दिल्ली भेजने की तैयारी में लग गए।

मंगरुआ अपने गुंजा को छोड़कर दिल्ली जाना नहीं चाहता था लेकिन मुन्नीलाल के डर से दिल्ली के लिए अपना झोला तैयार किया। ट्रेन में यात्रा के दौरान मंगरुआ सारे यात्री भाइयों से अपनी दर्द भरी कहानी सुनाते गया और गुंजा को जल्दी ही अपने पास बुलाने की बात बताई। इधर मंगरुआ वोडाफोन और एयरटेल कि महंगाई की चपेट में आने से गुँजवा भी संपर्क बनाने की उम्मीद छोड़ चुका था। Funny Love Stories In Hindi

कुछ दिन बिता मंगरुआ का मन दिल्ली में नहीं लग रहा था लेकिन बाप के डर के कारण जबरदस्ती टिका रहा। गुंजा से बात करने का इच्छा उसको सता रही थी। कुछ दिन में गांव का ही लड़का रमेश दिल्ली से घर आने वाला था। मंगरुआ सोचा अपनी बात एक पत्र में समाहित कर गुँजवा के लिए भेज दिया जाए और पत्र लिखना प्रारंभ किया। 

Funny Love Stories In Hindi

पत्र कुछ इस प्रकार के प्रारूप में था।

प्यारी गुंजा,  हम तोहार मंगरुआ हम पत्र अकेले रूम में बइठ के रात के 1 बजे लिखत बानी। कल रमेशवा घरे जाइ त वहीं से ई पत्र भेज देब तू पढ़ लिह। हमके ईहां मन नईखे लागत हम घरे तोहरे पास आवल चाहत बानी लेकिन मुन्नीलाल बाबूजी के डर से नईखी आवत। तू चिंता जिन करिहा हम ईहां से 10 बकरी खरीद के जल्दी ही घरे आईब फिर साथे चल के फील्डवा में बकरी चरा के मजमा लूटल जाई। तू जाके गांव के भोले बाबा और काली माई के कुछ चढ़ावे के कह दिह त हम जल्दी ही बकरी लेकर घरे आ जाइब। Funny Love Stories In Hindi

 तोहार करेजा मंगरुआ। 

 

Funny Love Stories In Hindi

 

 

Leave a Reply